BREAKING NEWS

सोशल मीडिया

सोशल मीडिया पर भी मुख्तार अंसारी और बेटे अब्बास अंसारी का जलवा

सोशल मीडिया पर भी मुख्तार अंसारी और बेटे अब्बास अंसारी का जलवा

राजनीति की दुनियाँ में अपना लोहा मनवा चुके बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी का सोशल मीडिया में जलवा चल रहा है। पूर्वांचल के सभी नेताओं का अपना अपना फेसबुक अकाउंट है लेकिन मुख्तार अंसारी 4 लाख आठ हजार से अधिक फालोवर्स के साथ सबसे आगे दिखाई पड़ रहे है, वही यूथ आइकन बनकर उभरे उनके बेटे बसपा नेता अब्बास अंसारी इतनी छोटी उम्र में दो लाख ग्यारह हजार से अधिक फालोवर्स के साथ तहलका मचाये हुए है। बाप बेटे की लोकप्रियता सोशल मीडिया में चरम पर है। विपक्षी नेतागण उनकी लोकप्रियता का भी लोहा मान रहे है ! सोशल मीडिया की कमान अब्बास अंसारी

जीना इसी का नाम है उर्फ़ मृत्यु के बाद का जीवन!

जीना इसी का नाम है उर्फ़ मृत्यु के बाद का जीवन!

✒️ लेखक: तौसीफ़ गोया

पापा की दोनों आंखे सफ़ेद गोली जैसी लग रही थीं. महिला डॉक्टर ने पापा के शरीर से आंखें निकाल कर अपने साथ लाए डिब्बे में रख दीं. डॉक्टर बोलीं- कल तक आपके पापा की आंखें दो लोगों को लगा दी जायेंगी. पापा का पूरा शरीर मेडिकल कालेज को दान दे दिया गया था.

कोई पंडित नहीं, कोई आडम्बर नहीं. मां और बहनें, पापा के देहदान के फैसले से सहमत थीं. मंझली बहन का परिवार उत्तर प्रदेश का कर्मकांडी परिवार है, उन्होंने हल्के-फुल्के ढंग से बोला कि आत्मा की शान्ति नहीं होगी. मैंने उन्हें समझाया कि आत्मा, रूह व

"निजाम पहले जैसा था आज भी वैसा ही है"

सत्येंद्र ने दे दिया जान किंतु कोटेदार का कोटा आज भी यथावत है। नंदगंज थाना क्षेत्र के किशोहरी गांव का युवा सत्येंद्र बिंद गांव के कोटा से गरीबों को राशन नहीं मिलने की आवाज उठाया। लड़ते लड़ते जब कोटेदार पर आंच आई तो किसी लड़की से छेड़खानी का आरोप लगाकर सत्येंद्र को थाने में बैठाया और पिटवाया।

सैदपुर में श्री शिवपाल यादव की सभा के दौरान सत्येंद्र बिन्द शिवपाल के समीप जाकर अपनी बात कहना चाह रहा था, पुलिस ने रोका। छेड़खानी के झूठे आरोप से वह इतना क्षुब्ध था कि शिवपाल की सभा में ही तेल छिड़क कर आग लगा लिया।

वाराणसी में कई दिनों तक

69 साल में देश को पहला ऐसा प्रधानमन्त्री मिला है... जो 35 भाषाओं में गाली सुन रहा है!

69 साल में देश को पहला ऐसा प्रधानमन्त्री मिला है... जो 35 भाषाओं में गाली सुन रहा है!

लखनऊ : नोट-बंदी को लेकर भड़के लोगों का गुस्‍सा किसी सुनामी से कम नहीं है। तिल का ताड़ बना डालने पर आमादा सोशल-साइट्सकर्ताओं ने तो अपने सारे कारतूस-तीर मारने का बाकायदा अभियान ही छेड़ दिया है। कोई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कोस रहा है, तो राहुलगांधी, केजरीवाल, मायावती, मुलायम सिंह यादव जैसे लोगों को। इन सब नेताओं का साफ मानना है कि भाजपा ने पहले तो सारा पैसा अपनी अंटी पर घुसेड़ लिया है, और उसके बाद नोट-बंदी का ऐलान किया है। लेकिन हैरत की बात है कि आम आदमी ऐसे आरोपों को पूरी तरह खारिज करता दिख रहा है। मुश्किलों में अपन

दीवाली के तत्‍काल बाद होली शुरू, लतियाय-गरियाय जा रहे हैं मोदी

दीवाली के तत्‍काल बाद होली शुरू, लतियाय-गरियाय जा रहे हैं मोदी

लखनऊ : एक वक्‍त हुआ करता था कि एक हजारों की झुण्‍ड-रकम को लोग अपने बच्‍चों के नाम रख दिया करते थे। मसलन, हजारी बाबू, हजारी लाल, हजारी प्रसाद, हजारी-सुत। लेकिन कल शाम जैसे ही इन हजारी और अर्द्ध-हजारी नोटों का हश्र बुरा हुआ, इन नोटों पर लानत-मलामत भेजने की स्‍पीड  इत्‍ती तेज हो गयी, कि मंगल-यान की गति तक फीकी हो जाए। खास तौर पर वे लोग, जो जन्‍मना मोदी-विरोधी हैं, पानी पी-पी कर मोदी को गरियाने में जुट गये हैं। जाहिर है कि यह लोग भाजपा विरोधी खेमे से ही ताल्‍लुक रखते हैं। उधर एक बड़ा खेमा ऐसा भी है जो मोदी के इस फैसले पर वाह-वाही के सारे गेट खोल

इस नेपाली सब्जीवाली की खूबसूरती के दिवाने हुए लोग, वायरल हुई फोटो

इस नेपाली सब्जीवाली की खूबसूरती के दिवाने हुए लोग, वायरल हुई फोटो

नई दिल्ली: नेपाल में सब्जी बेचने वाली एक लड़की की फोटोज इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। लोग उसकी खूबसूरती और मेहनत के कायल हुए जा रहे हैं। बता दें अभी हाल में इसी तरह पाकिस्तानी चायवाले की फोटोज वायरल हुई थीं और वो इंटरनेट सेलिब्रिटी बन गया 

 - फोटोग्राफर रूपचंद्र महाराजन ने नेपाल के लोकल मार्केट में सब्जी बेचती इस लड़की की फोटोज क्लिक की थी।

- फोटोग्राफर ने जैसे ही इंटरनेट पर इसकी फोटोज पोस्ट कीं, वो सोशल मीडिया पर वायरल हो गईं।

 उसकी एक फोटो सब्जी मार्केट की है। जबकि दूसरी में वो गोरखा और चितवन के बीच बने

अरे ओ अमरघिल्‍लू सिंगा अंकल जी ! अपनी गंजी खोपड़ी जरा इधर झुकाओ, मैं उस पर थूकूंगा

अरे ओ अमरघिल्‍लू सिंगा अंकल जी ! अपनी गंजी खोपड़ी जरा इधर झुकाओ, मैं उस पर थूकूंगा

: नहीं नहीं, पहले तुम थूको, दीपक चाटेगा : नेताओं का ओलम्पिक में नया गेम शामिल कराया, फुल-टॉस थुक्‍का-फजीहत : अब तो झाड़-झंखाड़ में भी लहलहाएगी थूका-थूकी की बौर : थूकमथूकी की बम्‍पर फसल के आसार : खुलेगा बलगमी-थूक शोध संस्‍थान, शिलान्‍यास तो हो ही चुका :

<
प्रधानी चुनाव का नोटिफिकेशन जारी, 4 फेज में ह

प्रधानी चुनाव का नोटिफिकेशन जारी, 4 फेज में ह

लखनऊ. स्टेट इलेक्शन कमीशन ने शनिवार को प्रधानी चुनाव का नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। इसके मुताबिक, पहले फेज की वोटिंग 28 नवंबर, दूसरे फेज की 1 दिसंबर, तीसरे फेज की 3 दिसंबर और आखिरी फेज की वोटिंग 9 दिसंबर को होगी। चुनाव के लिए यूपी में कुल 178683 पोलिंग बूê